जब शर्मिला टैगोर से टाइगर पटौदी ने बोला था झूठ, फिरोज़ खान ने ऐसे खोली थी पोल

जब शर्मिला टैगोर से टाइगर पटौदी ने बोला था झूठ, फिरोज़ खान ने ऐसे खोली थी पोल


Tiger Pataudi lied to Sharmila Tagore: 60 के दशक की खूबसूरत और बेहतरीन एक्ट्रेस शर्मिला टैगोर (Sharmila Tagore) और टाइगर पटौदी उर्फ मंसूर अली खान पटौदी (Mansoor Ali Khan Pataudi) की प्रेम कहानी भी खूब सुर्खियों में रही थी. दोनों पहली बार एक कॉमन फ्रेंड के ज़रिए साल 1965 में मिले थे. वहीं, उस समय का एक दिलचस्प किस्सा शर्मिला (Sharmila Tagore) ने अपने एक इंटरव्यू में शेयर किया था.

शर्मिला (Sharmila Tagore) ने बताया था कि उन्हें इंप्रेस करने के लिए पटौदी ने एक बार उन्हें कविता सुनाई थी. शर्मिला (Sharmila Tagore) ने वही कविता अपने दोस्त और बॉलीवुड एक्टर फिरोज़ खान (Feroz Khan) को भी सुना दी. लेकिन कविता सुनकर फिरोज खान (Feroz Khan) ने काफी अलग तरह के एक्सप्रेशन दिए और कहा, ‘ये लाइनें तो गालिब की हैं’.


वहीं, जब इंटरव्यू में शर्मिला टैगोर से पूछा गया कि ‘उन्हें टाइगर पटौदी में क्या पसंद आया जो उन्होंने उनसे शादी कर ली? शर्मिला ने इसपर कहा कि उन्हें पटौदी का सेंस ऑफ ह्यूमर बहुत पसंद था. उन्होंने बताया कि उन्हें मालूम था कि ऐसा वक्त कभी नहीं आएगा जब मंसूर उनका दिल जानबूझकर दुखाएंगे.


इसके अलावा मंसूर अली खान पटौदी से अपनी पहली मुलाकात के बारे में शर्मिला ने कहा, ‘साल 1965 में हमारी मुलाकात एक पार्टी में हुई थी. हमने वहां बातें कीं. तब उन्होंने मुझसे ब्रिटिश एक्सेंट में बात की थी और वो जो भी जोक मारते थे, कोई उस पर हंसता ही नहीं था. क्योंकि वो जोक किसी को भी समझ नहीं आता था. वो खुद ही अपने जोक पर हंसता था. बस मुझे ये सब बहुत भा गया. मुझे तब ये महसूस हुआ कि कभी भी ये शख्स मेरा दिल जानबूझकर नहीं दुखाएगा. उनपर मुझे विश्वास था. सच में वो एक ट्रू जेंटलमैन थे’.

यह भी पढ़ेंः

जब फिल्म की शूटिंग के वक्त Rajkumar से भिड़ गए थे Feroz Khan, वजह ऐसी कि जानकर हो जाएंगे हैरान

एक सुपरस्टार का बेटा होने के बाद भी क्यों Raj Kapoor को करना पड़ा था बॉम्बे टॉकीज में मजदूर का काम, जानें वजह





Source link

Share this post


Translate »